घोंसले की चिड़िया

घर के पास वो एक पेड़ जिस में हर साल घोंसले बनाती है चिड़ियाँ नर्म पंखों से रोकती है धूप और बारिश कि उन नन्ही चहचहाटों को सहमा ना दे हवा जतन से सहेजती है, सम्भालती है अपनी दुनिया जानती है कि उड़ जाएँगे ये एक दिन नन्हे चूज़ों के बड़े मज़बूत पंखों और ऊँचीContinue reading “घोंसले की चिड़िया”

MY Life my choices…..is it the right choice baby?

catching up with the previous one….are my choices really mine..!! While going to Delhi I met this girl, her sister and mother in the train, unfortunately, the train took longer than usual (6 hours more) to reach Delhi which provided me extra time to know more about this interesting but small family. The family seemedContinue reading “MY Life my choices…..is it the right choice baby?”

यादों की दस्तक

एक ओर किसी कच्ची सड़क पर दौड़ती हैं हँसी तो कहीं किराए की साइकिल पर निकल पड़ती है ज़िंदगी तुम आती हो तो बिखर जाती हैं यादों की लड़ियाँ कहीं ठंडी सी क़ुल्फ़ी तो कहीं खट्टी मीठी गोलियों वो कोने की दुकान के कई चक्कर लगाना बड़ों की बैठक से छुप कर भाग जाना फिरContinue reading “यादों की दस्तक”